Eczema Treatment In Homeopathy In Hindi एग्जिमा होम्योपैथिक दवाइयां

Eczema Treatment In Homeopathy In Hindi – Eczema treatment in hindi

एग्जिमा क्या है – Eczema in hindi

Eczema Treatment In Homeopathy In Hindi दोस्तों, एग्जिमा को आम भाषा में डर्मेटाइटिस भी कहा जाता है। इसमें स्किन में सूजन आ जाती है। स्किन में सूजन आ जाने के बाद उस में खुजली होती है। वहाँ पर लाल-पन छा जाता है और फिर वंहा पर दाने होने लगते है। जिनमे पानी भर जाता है और भी ज्यादा खुजली होने लगती हैं। उसके बाद खुजली करने के बाद उसमे छोटी-छोटी फुंसिया हो जाए तो, वहा पर मवाद वाले दाने हो जाते है।

Eczema treatment in hindi

एग्जिमा होम्योपैथिक दवाइयां

 

एक्जिमा के प्रकार – Types of eczema

1- dry eczema – इसमे रोगी को दाने होते है, खुजली बहुत ज्यादा होती है। खुजली होने में खून कने लगे, इसी समस्या को dry eczema कहा जाता है।

2- wet eczema – इसमे रोगी को दाने होते है और दानों में से पानी निकलने लगता हैं। किसी-किसी को बहुत ज्यादा पानी निकलता है किसी-किसी को कम पानी निकलता हैं।

Also See :- Nux Vomica 30 Ke Fayde In Hindi Nux vomica 30 के फायदे इन हिंदी

एक्जिमा किस-किस को हो सकता है – Eczema symptoms

1- जिन लोगो को किसी भी प्रकार की एलर्जी है उनको एक्जिमा होने की ज्यादा संभावना होती है।

2- जिनके परिवार में एक एक्जिमा की समस्या चलती आ रही है उन्हें बहुत ज्यादा एक्जिमा होने की संभावना होती है।

3- बहुत ज्यादा धूल-मिट्टी वातावरण में होने के कारण ही एग्जिमा होने की संभावना हो सकती है।

 

एक्जिमा के लिए होम्योपैथिक दवाइयां – Eczema Treatment In Homeopathy In Hindi

1- Sulphur 30 – 

Eczema Treatment In Homeopathy In Hindi इस दवाई का व्यक्ति बहुत ज्यादा बातूनी होता है और बहुत ज्यादा फेकू भी होता है। इसका व्यक्ति अपने आप मे बहुत ज्यादा आत्मविश्वासी रहता है। इसके साथ अगर व्यक्ति को एक्जिमा होता है तो इसका एक्जिमा दाने हो, खुजली हो और साथ में रोगी को रात और शाम को बहुत ज्यादा जलन होती है। जब कपड़े बदलता है तो बहुत ज्यादा खुजली होती है। अगर ऐसी सारी समस्या है तो रोगी यह दवाई ले सकता है।

दवाई कैसे ले – 

सल्फर की 30 शक्ति की तीन से चार बूंदे सुबह-शाम रोजाना पंद्रह दिनों तक लेना है।

 

2- Psorinum 30 –

यह दवाई भी सल्फर दवाई की ही तरह है। इसमे सारी समस्या सल्फर की ही तरह होती है, लेकिन इसकी खुजली रोगी को ठंड के दिनों में ज्यादा होती है और गर्मियों के दिनों में थोड़ा आराम रहता है। इसके रोगी की त्वचा रूखी होती है ओर गन्दी रहती है। यह दवा ऐसे रोगियों के लिए बहुत लाभदायक है।

दवाई कैसे ले –

Psorinum की 30 शक्ति की दो-दो बूंदे सुबह-शाम रोजाना पंद्रह दिनों तक लेना है।

 

3- Natrum mur 30 –

इस दवा के व्यक्ति बहुत कम बोलते हैं और बहुत संवेदनशील होते है। इस दवा के रोगी अपनी भावनाएं से जल्दी नहीं शेयर करते। खाने में नमक बहुत ज्यादा खाते हो। गर्मियों में एक्ज़ीमा की परेशानी बढ़ जाए, धूप में संपर्क में आने से एक्जिमा की समस्या बढ़ जाए ओर ड्राई एक्जिमा हो, ऐसी स्थिति होने पर यह दवा बहुत लाभकारी है।

दवा कैसे ले –

Natrum mur की 30 शक्ति पाँच बूंदे दिन में।सिर्फ एक बार रोजाना पंद्रह दिनों तक लेना है।

 

4- Mezerium 30 –

यह एक ऐसी दवा जिससे किसी भी प्रकार का एक्जिमा को ठीक किया जा सकता है। इसमे रोगी के एक्जिमा में से पस निकलता है। बहुत खुजली और जलन होज़ ऐसी समस्या होने में इस दवा का उपयोग बहुत लाभकारी है।

दवाई कैसे ले –

Mezerium की 30 शक्ति दिन में 5 बूंदे दिन में एक समय रोजाना बीस दिनों तक लेना है।

 

5- Petroleum 30 –

यह दवा एक्जिमा के लिए बहुत ही अच्छी दवा है। इस दवाई के लक्षण में अगर किसी रोगी को गाड़ी में बहुत ज्यादा उल्टी आती हो, साथ-साथ रोगी की त्वचा बहुत रूखी हो और एक्जिमा हथेलियों में हो, तो ऐसी स्थिति में यह दवा बहुत उपयोगी है।

दवाई कैसे ले –

Petroleum की 30 शक्ति की तीन से चार बूंदे सुबह-शाम रोजाना पंद्रह दिनों तक लेना है।

 

Note : Eczema Treatment In Homeopathy In Hindi

 

दोस्तों आज हमने आपको Eczema Treatment In Homeopathy In Hindi के बारे में बताएं Eczema treatment in hindi के बारे में जानकारी दी अगर यह जानकारी आपको अच्छी लगी तो कृपया कमेंट सेक्शन पर अपना समर्थन दें और अगर आपको इसमें कुछ सुधार समझ आता है तो वह भी हमें कमेंट सेक्शन में जरूर बताएं हमारे अन्य ब्लॉक जिसमें Skin Care In Hindi के बारे में जानकारी दी है उसकी link लिंक यह है !

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *