crocin advance uses in hindi

crocin advance uses in hindi क्रोसिन एडवांस के उपयोग –

 

क्रोसिन एडवांस एक बहुत ही उपयोगी और फायदेमंद दवाई है इसका ज्यादातर उपयोग बुखार की समस्याओं को ठीक करने के लिए किया जाता है । crocin advance uses in hindi एक ब्रांड नाम है ,असल में इस दवाई में पैरासिटामोल और सोल्ट का कंपोजीशन 500 एमजी का उपयोग किया जाता है। क्रोसिन एडवांस दवाई को जी एस के कंपनी द्वारा बनाई जाती है।

 

crocin advance tablet use in hindi, क्रोसिन एडवांस टैबलेट के उपयोग –

1 ) क्रोसिन एडवांस टैबलेट का उपयोग दर्द और बुखार को ठीक करने के लिए किया जाता है। यह टेबलेट सिर दर्द, migraine , बदन दर्द, जोड़ों का दर्द ,कमर दर्द, मांसपेशियों के दर्द ,दांतो के दर्द और भी सभी प्रकार के दर्द को ठीक करने के लिए इस दवाई का उपयोग किया जाता है । crocin advance uses in hindi टैबलेट मध्यम दर्द से लेकर तेज दर्द को ठीक करने के लिए बहुत ही उपयोगी और फायदेमंद दवाई है ।आप सभी को इसका उपयोग अवश्य करना चाहिए ,यह आप के दर्द को जड़ से खत्म कर देगा।

2)  क्रॉसिन एडवांस टैबलेट का उपयोग करने से सामान्य से एलर्जी रिएक्शन भी ठीक हो जाते हैं, जैसे कभी कभी गर्मियों के मौसम में हमारे शरीर पर खुजली होने लगती है ,जिसके कारण हमारे शरीर पर लाल निशान पड़ जाते हैं ,तो इस टेबलेट का सेवन करने से वह सभी निशान ठीक हो जाते हैं और हमें खुजली भी नहीं होती।

 

crocin advance uses in hindi, Crocin advance दवाई को लेने का तरीका –

1- crocin advance uses in hindi को कभी भी खाली पेट नहीं लेना चाहिए, इसको हमेशा खाना खाने के बाद ही लेना चाहिए।

2- crocin advance uses in hindi  की डोज डॉक्टर द्वारा बताई गई मात्रा के अनुसार ही लेनी चाहिए । कभी भी बिना डॉक्टर की सलाह लिए, इस टेबलेट का उपयोग नहीं करना चाहिए क्योंकि इसकी  कितनी डोज लेनी है यह मरीज की बीमारी पर निर्भर करता है।

 

crocin advance in hindi, क्रोसिन एडवांस टैबलेट के साइड इफेक्ट –

1- वैसे तो crocin advance uses in hindi एडवांस टैबलेट मैं पेरासिटामोल टेबलेट मिली रहती है ,जो कि सामान्य से दर्द और बुखार को कम करने के लिए दी जाती है और इसके कुछ ज्यादा साइड इफेक्ट भी देखने को नहीं मिलते हैं ,लेकिन अगर कभी आप किसकी गलत ढूंढ ले लेते हैं, तो इसके कुछ मामूली से साइड इफेक्ट देखने को मिल सकते हैं। जैसे कि ~ नोजिया, बदहजमी, पेट में दर्द, पेट में जलन ,उल्टी दस्त , पेट में गैस जैसी समस्याएं हो सकती हैं। यह सभी समस्याएं तब होती हैं जब क्रोसिन एडवांस टैबलेट को आप खाली पेट ले लेते हैं, तो ध्यान रखिए आपको कभी भी इस टेबलेट का खाली पेट सेवन नहीं करना है।

2- क्रोसिन एडवांस टैबलेट कि ज्यादा डोज ले लेने से आपको किडनी की समस्या भी हो सकती है। इसलिए इस टैबलेट का उपयोग ध्यानपूर्वक और डॉक्टर द्वारा बताई गई डोज के अनुसार ही करें।

3- इस crocin advance uses in hindi का सेवन करने से आपको सामान्य रिएक्शन जैसे त्वचा में जलन, होठों पर सूजन, गालों पर सूजन, सांस लेने में तकलीफ ,खुजली आदि समस्याएं होती हैं, तो आपको तुरंत ही अपने डॉक्टर से परामर्श लेना चाहिए।

 

crocin advance tablet uses in hindi, क्रोसिन एडवांस टेबलेट से संबंधित सावधानियां –

1- crocin advance uses in hindi को लगातार 3 दिन से ज्यादा नहीं लेना चाहिए वरना इसके गंभीर परिणाम देखने को मिल सकते हैं। अगर आप लगातार तीन दिन तक इस टेबलेट का सेवन करते हैं और आपकी तबीयत में कोई सुधार देखने को नहीं मिलता है ,तो तुरंत आपको डॉक्टर से सलाह ले लेनी चाहिए।

2- crocin advance tablet का सेवन करने के साथ-साथ आपको शराब का सेवन नहीं करना है ,क्योंकि यह टेबलेट शराब के साथ कुछ गंभीर साइड इफेक्ट्स दिखा देती है। यह शराब के साथ बिल्कुल भी सुरक्षित नहीं है। क्रोसिन एडवांस टैबलेट के साथ शराब का सेवन करने से आपका लीवर डैमेज हो सकता है ,इसलिए आपको इससे बचना चाहिए।

3- 12 साल से कम उम्र के बच्चों को क्रोसिन एडवांस टैबलेट नहीं लेना चाहिए ,क्योंकि क्रोसिन एडवांस टैबलेट एक फास्ट रिलीज टेबलेट है ,जो पेट में जाकर तुरंत घुल जाती है और तुरंत अपना काम करना शुरू कर देती है। अगर 12 साल से कम उम्र के बच्चों को यह टेबलेट दी जाती है ,तो ओवरडोज होने की संभावना रहती है, इसलिए 12 साल से कम उम्र के बच्चों को क्रोसिन एडवांस टैबलेट बिना डॉक्टर की सलाह पर नहीं देना चाहिए।

4- अगर किसी व्यक्ति को लीवर ,किडनी की कोई बीमारी है, तो इसके बारे में पूरी जानकारी आप अपने डॉक्टर को दें उनकी सलाह पर ही इस टेबलेट का सेवन करें। क्योंकि crocin advance uses in hindi  एडवांस टैबलेट का सेवन करने से लीवर और किडनी की बीमारियां और गंभीर हो जाती है।

5- गर्भवती महिलाएं और स्तनपान कराने वाली महिलाओं को क्रोसिन एडवांस टैबलेट का सेवन करने से पहले अपने डॉक्टर से सलाह जरूर लेना चाहिए, क्योंकि वैसे तो यह टेबलेट गर्भवती महिला और स्तनपान कराने वाली महिलाओं के लिए सुरक्षित है, लेकिन कभी-कभी इसके कुछ परिणाम हो सकते हैं इसलिए डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

Note –

दोस्तों आज हमने आपको scrocin tablet uses in hindi,crocin uses in hindi,crocin 650 tablet uses in hindi,crocin tablet kiskaam aati hai, crocin syrup 240 dosage, crocin dosage for adults, crocin advance side effects,crocin side effects,
 के बारे में जानकारी दी अगर यह जानकारी आपको अच्छी लगी तो कृपया कमेंट सेक्शन पर अपना समर्थन दें और अगर आपको इसमें कुछ सुधार समझ आता है तो वह भी हमें कमेंट सेक्शन में जरूर बताएं हमारे अन्य ब्लॉक जानकारी चाइये तो हमारा ये ब्लॉग फॉलो करे।

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *