V Wash Uses In Hindi वी वाश का उपयोग इन हिंदी

V Wash Uses In Hindi ( वी वाश का उपयोग इन हिंदी )

 

V Wash Uses In Hindi वी वाश महिलाओं के जनजांग को साफ करने के लिए उपयोग में लाया जाता है, यह बहुत ही अच्छा वा लाभदायक पदार्थ है। इसको  सी बकथोर्न एवं ट्री ऑयल को मिलाकर तैयार किया जाता हैं। वी वाश महिलाओं के pH को ध्यान मे रखकर खुजली, जलन, ड्राइनेस की समस्या से छुटकारा दिलाती है। जनजांग में इसके उपयोग करने से यह पूरी तरह से हाइजीन से सुरक्षित रहती है। एक स्वस्थ महिला  के बजायना का pH मान लगभग 3.५से4.५ के आस पास होता है।

V Wash Side Effects In हिंदी के बारे मे V Wash Kya Hota है 

V Wash Use In Hindi महिलाओं के जनजांग में एक सामान्य सुरक्षात्मक परत होती है, जोकि एक सामान्य झारिय होती है, इस परत का काम होता है की संक्रमण को रोकना । यह सुरक्षात्मक परत महिलाओं की योनि मे बनी होती हैं, लेकिन जब हम नहाते है तो पानी और साबुन की वजह से यह परत टूट जाती हैं। क्योंकि उस टाइम हमारा pH मान जायदा हो जाता है । ऐसे में वी वाश का उपयोग करने से बह pH मान नियंत्रण में रखता है। यह लेक्ट्रो बेसिल के विकास को भी बढावा देता हैएवं हानिकारक बैक्टेरिया से होने वाले संक्रामण से भी रोकता है।

V Wash Uses In Hindi

वी वाश का उपयोग इन हिंदी

V Wash Uses In Hindi और V Wash Use Karne Ka Tarika  ( वी वाश को उपयोग करने का तरीका )

V Wash Uses In Hindi करना भी बहुत ही आसान है, वी वाश को थोड़ा सा अपनी हाथ पर ले फिर उसे बजायाना के बाहर वाले हिस्से में लगाए हल्के ,हल्के हाथों से और मसाज करे, फिर पानी से योनि को धो लीजिए और फिर वी वाश की मदद से ही योनि को पोंछ लीजिए। इसका उपयोग करने के समय ध्यान रखे कि वी वाश जनजांग के अंदर ना जाए।

✓महिलाओं की योनि बहुत ही कोमल होती है, लचीली मसल्स से बनी होती है, जोकि शरीर में सेंसेशन पैदा करती हैं। इसलिए जैसे हम सर्वर के अन्य भागों को साफ करते है तो इसका भी साफ होना जरूरी है, क्योंकि योनि गर्भाशय को शरीर के बाहरी शरीर से जोड़ता है। अगर योनि की सफाई नही हुई तो योनि मे से खुजली होना, बदबू आना, सफेद पानी आना, योनि मे दर्द होना, योनि का शुष्क होना, और भी बहुत सी समस्या होने लगती हैं। इसलिए वी वाश का उपयोग करना तो बहुत ही जरूरी होता हैं।

V Wash Uses In Hindi रात के समय करना चाइए, क्युकी उस समय पर शरीर मे पसीना कम आता है, तो यह ज्यादा अच्छे से काम करता है, बैसे तो वी वाश का उपयोग करने से कोई हानि होती नही है लेकिन फिर भी इसका उपयोग सावधानी से करना चाइए । वी वाश लिक्विड के साथ साथ एक वी वाश बायपर भी आता है, जिसका उपयोग योनि को धोने के बाद इसको साफ करने के लिए उपयोग में लाया जा सकता है 

Also See : Mucinac 600 Uses In Hindi

 

✓वी वाश को कोई भी खरीद सकता है यह जायदा महंगा भी नहीं होता हैं। बाजार में वी वाश वाइप्स 84 रुपे में और लिक्विड लॉशन 100ml 152 रुपए में अ जाता हैं, यह हर जगह मिल जाता हैं कोई से भी मेडिकल स्टोर पर उपलब्ध होता है, अगर आप ऑनलाइन ऑर्डर करे तो बो भी कर सकते है।

 

V Wash Uses In Hindi और V Wash Ke Fayde वी वाश के फायदे 

 

1 ) यह योनि को नाजुक और आरामदायक बनाए रखता है।

2 ) यह योनि मे होने वाली दुर्गंध को भी रोकता है।

3 ) यह योनि से आने वाले सफेद पानी को भी रोकता है।

4 ) योनि को संक्रमण से भी बचाता है।

5 ) यह योनि को साफ एवम स्वस्थ रखता हैं।

6 ) इसके उपयोग से वी वाश में सूखापन नही होता हैं।

7 ) यह pH को स्थिर रखकर जनजांग में होने वाले संक्रमण को भी रोकता है। आप इसका उपयोग रोज कर सकते हैं।

8 ) इसके उपयोग से योनि मे जलन, खुजली आदि नहीं होती हैं।

V Wash Uses In Hindi के उपयोग करने से आज तक किसी को कोई परेशानी नहीं हुई है लेकिन फिर भी अगर आपको कोई भी परेशानी हो तो तुरंत डॉक्टर से सलाह ले “

 

V Wash Uses In Hindi और V Wash Side Effects In Hindi वी वाश से सावधानियां 

v wash ka use in hindi  केबल महिलाओं के बाहरी उपयोग के लिए हैं, अगर गर्भवती महिला इसका उपयोग करती हैं तो पहले डॉक्टर से सलाह लेकर ही इस्तमाल करे। 

  • 14 साल से कम उम्र के बच्चे इसका उपयोग बिलकुल न करे, क्योंकि उनकी त्वचा बहुत ही कोमल होती हैं, इससे इनके शरीर पर गलत ही प्रभाव पड़ सकता हैं।
  • वी वाश का उपयोग महिलाओं को रोज ही करना चाहिए। इससे आप आरामदायक और ताजा महसूस करेंगे।
  • V Wash Uses In Hindi मासिक धर्म के दौरान भी उपयोग कर सकते हैं।
  •  वी वाश का उपयोग करने के बाद योनि को पानी से हों धोना चाहिए, कोई भी साबुन का इस्तमाल न करे।
  •  योनि को बार बार भी नही धोना चाहिए, बल्कि दिन मे केबल 1से2 बार ही धोना चाहिए।
  •  वी वाश के उपयोग के बाद अगर आप सेक्स करते हैं तो योनि को साफ पानी से तुरंत धोना चाहिए। अगर उस समय पर आप कंडोम का उपयोग कर रहे तो, फिर ठीक है इससे अपको संक्रमण का खतरा भी नहीं होता हैं।।
  •  अपको साफ़ कपड़े पहनना चाइए रोज अपने अंडरवियर को धोना चाहिए। बल्कि बहुत ज्यादा तंग अंडर वियर न पहने। जहा तक हो सके तो सूती वस्त्र के बने हुए ही अंडर वियर का उपयोग करना चाहिए।
  • अगर इस समस्या से बचने के लिए अपको पहले से ही बच्चो के डाइपर को समय समय पर बदल देना चाहिए जिससे शुरू से ही कोई परेशानी न हो।
  •  गुप्तांगों के आस पास पाउडर का इस्तमाल बिलकुल भी न करे।

V Wash Kya Hota Hai हमारे लिए बहुत ही फायदेमंद होता है क्योंकि इसमें पानी और साबुन के पीएच मान की तुलना में इस का पीएच मान बहुत कम होता है , pH मान ज्यादा होना हमारी सेहत के लिए ठीक नहीं होता है , इसलिए जहा तक हो सके तो केवल वी वाश का ही उपयोग करे। इसका उपयोग करना भी आसान ही और कम दाम पर भी मिल जाता है । जो भी समस्या होती है , वो सब भी खत्म हो जाती है, तो V Wash Benefits In Hindi 

 

Note :

दोस्तों आज हमने आपको V Wash Uses In Hindi , v wash kya hai और V Wash Use In Hindi के बारे में जानकारी दी अगर यह जानकारी आपको अच्छी लगी तो कृपया कमेंट सेक्शन पर अपना समर्थन दें और अगर आपको इसमें कुछ सुधार समझ आता है तो वह भी हमें कमेंट सेक्शन में जरूर बताएं हमारे अन्य ब्लॉक जानकारी चाइये तो हमारा ये ब्लॉग फॉलो करे।

 

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published.