Pet Me Gas Ki Dawa पेट मे गैस भरने की दवा (Homeopathic medicines for flatulence)

Pet Me Gas Ki Dawa दोस्तो, पेट मे गैस भरने की समस्या बहुत आम हो चुकी है। आजकल गलत खान-पान ओर गलत लाइफ स्टाइल के वजह से इस समस्या का सामना हर कोई कर रहा है। पेट फूलना जिसे की bloating भी कहा जाता है। जिसमे पेट फुला हुआ भी दिखाई देता है। किसी भी व्यक्ति के लिए यह बहुत ही बड़ी समस्या बन जाती है इसमे व्यक्ति के पेट मे हवा भर जाती है .Pet Me Gas Ki Dawa 

Pet Me Gas Ki Dawa पेट मे गैस भरने की दवा (Homeopathic medicines for flatulence)

जिसकी वजह से पेट फूल जाता है ओर पेट का फूलना यह संकेत होता है कि खाया गया भोजन ठीक तरह से हजम नही हुआ है ओर आपका मेटाबोलिस्म बहुत ही खराब हो चुका है। पेट फूलने की समस्या उन महिलाओं में भी देखी गयी है जिनमे हार्मोनल की गड़बड़ी हो जाती है जैसे- PCOD या thyroid. तो चलिए जानते है दोस्तो, होम्योपैथिक दवाइयों का इस्तेमाल करके कैसे आप पेट में हवा भरने की समस्या से छुटकारा पा सकते है।Pet Me Gas Ki Dawa 

 

Pet Me Gas Ki Dawa  पेट में हवा भरने की होम्योपैथिक दवाइयां –

दोस्तों अगर आपको पेट में हवा भरने की शिकायत रहती है, तो आप नीचे दिए गए लक्षणों के आधार पर होम्योपैथिक दवाइयों का सेवन कर सकते हैं।Pet Me Gas Ki Dawa 

 

1- अर्जेंटम नाइट्रिकम (Argentum Nitricum) 30 –

a- रोगी का पेट हवा से भरा रहता है।

b- खाने के बाद और ज्यादा बढ़ जाता है।

c- रोगी को लगता है, कि उसका पेट फट जाएगा।

d- पेट को छुआ नहीं जा सकता।

e- नाभि के पास से दर्द उठकर पर पूरे पेट में फैल जाता है। जोर की आवाजों के साथ नीचे से हवा निकलती है। डकारे आती है। डकारे आने से पेट दर्द कुछ कम होता है, लेकिन नीचे से हवा निकलने से आराम नहीं आता है।

 

दवाई कैसे लेना है-

अर्जेंटम नाइट्रिकम की 30 शक्ति की चार से पांच गोलियां आप दिन में तीन बार ले.Pet Me Gas Ki Dawa 

 

2- कार्बो वेज (Carbo Veg) 30 – 

a- बहुत ज्यादा बदबूदार अफ़ारा, विशेषता खाने के बाद (कभी तो फौरन बाद कभी आधा या एक घंटे बाद).

b- पेट के ऊपरी हिस्से में हवा ज्यादा भरी रहती है जिसकी वजह से पेट के ऊपर वाला हिस्सा ज्यादा फूला रहता है।

c- बार-बार बहुत ज्यादा खट्टी या सड़ी हुई  डाकारे आती है और नीचे से बदबूदार हवा निकलती है। डकारे आने से और नीचे से हवा खारिज होने से सभी तकलीफों से में आराम मिलता है।

d- पेट हवा से ऐसे भूल जाता है दर्द करता है मानो फट जाएगा।

e- हवा पेट में गड़गड़ाती है और ऊपर की तरफ दबाव डालती है। 

f- हवा पसलियों के नीचे अटकती है चुभन पैदा करती है।

 

दवाई कैसे लेना है-

कार्बो वेज की 30 शक्ति की चार से पांच गोलियां आप दिन में तीन बार ले।Pet Me Gas Ki Dawa 

 

3- चाइना (China) 30- 

a- आफारे की वजह से पूरा पेट फूला रहता है पेट में हवा भरी होने की वजह से पेट में दर्द होता है।

b- डकारे आती है और जोर की आवाज के साथ नीचे से बदबूदार हवा निकलती है रोगी जो कुछ भी खाता है उसकी गैस बन जाती है पेट में ऐठन भरा दर्द होता है।

c- डकारे आने या नीचे से हवा निकालने से पेट दर्द या पेट फूलने में कोई आराम नहीं मिलता है।

 

दवाई कैसे लेना है-

चाइना की 30 शक्ति की चार से पांच गोलियां आप दिन में तीन बार ले।Pet Me Gas Ki Dawa 

 

4- पल्सेटिला (pulsetilla) 30 –

a- खाने के एक या दो घंटे के बाद पेट फूल जाता है और पेट में दर्द होता है।

b- पेट में गड़बड़ होती है। अफारा पेट में यहां-वहां घूमता रहता है, विशेषकर शाम के समय।

d- नीचे से हवा निकलने से थोड़ा आराम मिलता है।

 

दवाई कैसे लेना है-

पल्सेटिला की 30 शक्ति की चार से पांच गोलियां आप दिन में तीन बार ले।Pet Me Gas Ki Dawa 

 

5- नक्स वोमिका (Nux Vomica) 30 –

a- पेट में हवा भरी होने की वजह से पेट फूला रहता है।

b- नाभि के आस पास दर्द होता है सुबह के समय और खाना खाने के बाद पेट में गड़गड़ाहट होती है।

c- खाना खाने के दो-तीन घंटे बाद (फौरन बाद नहीं) पेट की सभी तकलीफ से बढ़ती है थोड़ा सा भी खाने पर पेट में हवा भर जाती है और पेट फूल जाता है।

d- कमर-पेट के कपड़े ढीले करने पड़ते हैं।

 

दवाई कैसे लेना है-

नक्स वोमिका की 30 शक्ति की चार से पांच गोलियां आप दिन में तीन बार ले।Pet Me Gas Ki Dawa 

 

6- लाइकोपोडियम (Lycopodium) 30 –

a- खाने के फौरन बाद पेट फूल जाता है।

b- पेट का निचला हिस्सा ज्यादा फुला रहता है। खट्टी डकार आती है, जिनकी वजह से मुंह का स्वाद खट्टा हो जाता है और गले में काफी देर तक जलन होती रहती है।

c- नीचे से हवा निकलती रहती है।

d- पेट फूलने में डकारे आने से कोई आराम नहीं आता है लेकिन नीचे से हवा निकलने से थोड़ा आराम आता है।

f- Lyco. में पेट के नीचे का हिस्सा Carbo veg. में ऊपर का हिस्सा ओर china में पूरा पेट फूला रहता है।

 

दवाई कैसे लेना है-

लाइकोपोडियम की 30 शक्ति की चार से पांच गोलियां आप दिन में तीन बार ले।Pet Me Gas Ki Dawa 

 

7- केमोमिल्ला (Chemomilla) 30, 200 –

a- अफारे की वजह से पेट ढोल की तरह बन जाता है। पेट में काटने जैसा, एठने या फाड़ने जैसा दर्द होता है।

b- रोगी पेट को छूने नहीं देता है। 

c- सड़े हुए अंडे जैसी डकारे आती है।

d- दर्द के दौरान गाल लाल हो जाते हैं पीछे से हवा निकलती रहती है लेकिन दर्द कम नहीं होता है।

 

दवाई कैसे लेना है-

केमोमिल्ला की 30 या 200शक्ति की चार से पांच गोलियां आप दिन में तीन बार ले।Pet Me Gas Ki Dawa 

 

8- कॉलचिकम (Colchicum) 30 –

a- पेट में हवा भरी होने के कारण पेट फूला रहता है।

b- पेट में गड़गड़ाहट होती है और ऐठन भरा दर्द (cramping pain) होता है।

c- पेट में जलन होती है।

d-  शाम के समय बेहद बदबूदार हवा खारिज होती है।

 

दवाई कैसे लेना है-

कॉलचिकम की 30 शक्ति की चार से पांच गोलियां आप दिन में तीन बार ले।Pet Me Gas Ki Dawa 

 

9- एलॉय (aloe) 6,30 –

a- पेट फुला रहता है।

b- नाभि के आसपास तपकन के साथ दर्द (thrombing pain) होता है जो दबाने से बढ़ता है। ऐसा लगता है कि अभी दस्त शुरू हो जाएंगे।

c- बदबूदार हवा खारिज होने से पेट दर्द में आराम आता है।

 

दवाई कैसे लेना है-

एलॉय की 6 या 30 शक्ति की चार से पांच गोलियां आप दिन में तीन बार ले।Pet Me Gas Ki Dawa 

 

10- नक्स मोस्चता (Nux Moschata) 30 –

a- अफारे की वजह से पेट बहुत दर्द ज्यादा फूला रहता है।

b- पेट में गड़गड़ाहट होती है।

c- नाभि के आसपास काटने, ऐंठने जैसा दर्द होता है। 

d- हर बार खाने के बाद पेट फूल जाता है।

c- मुंह और गला बेहद सुका रहता है फिर भी प्यास नहीं होती है – यह इस दवा का विशेष लक्षण है।

 

दवाई कैसे लेना है-

नक्स मोस्चता की 30 शक्ति की चार से पांच गोलियां आप दिन में तीन बार ले।Pet Me Gas Ki Dawa 

 

पेट मे गैस भरने की बायोकेमिक होम्योपैथिक दवाइयां-

1- नैट्रम मुरियाटिकम (Natrum Muriaticum) 6x, 12x –

a- विशेषकर खाने के बाद, गैस के कारण पेट फूला रहता है।

और दबाव रहता है पेट के ऊपर से कपड़े ढीले करने पड़ते हैं।

c- मुंह से बदबू आती है।

 

दवाई कैसे लेना है-

नैट्रम मुरियाटिकम की 6x, 12x शक्ति आप दिन में तीन बार ले।Pet Me Gas Ki Dawa 

 

2- नैट्रम फोस्फोरिकम (Natrum Phosphoricum) 6x –

a- पेट फूला रहता है, मुंह में खट्टा पानी आता है।

b- सीने और गले में जलन होती है खट्टी उल्टियां होती है।

c- जवान पर मलाई जैसा पीले रंग का लेप रहता है।

 

दवाई कैसे लेना है-

नेट्रम फोस्फोरिकम की 6x शक्ति आप दिन में तीन बार ले।Pet Me Gas Ki Dawa 

 

3- कलियम फोस्फोरिकम (Kalium phosphoricum) 6x –

a- पेट फूला रहता है, पेट और सीने में जलन होती है।

b- सड़ी हुई डकारे आती है बहुत ज्यादा बदबूदार गैस निकलती है जिससे पेट की तकलीफो में आराम मिलता है।

 

दवाई कैसे लेना है-

कलियम फोस्फोरिकम की 6x शक्ति आप दिन में तीन बार ले।

 

4- साईलेसिया (Silicea) 12x –

a- पेट में हवा भरी होने से पेट फूला रहता है। खट्टी डकारे आती है। बदबूदार पाद आते हैं। 

b- पेट में जलन होती है जो ऊपर की तरफ बढ़ती है।

c- पेट में चाकू से काटने जैसा दर्द होता है देखने से डकारे आने से पेट दर्द कम हो जाता है।

 

दवाई कैसे लेना है-

साईलेसिया की 30 शक्ति आप दिन में तीन बार ले।

 

5- मैग्नीशियम फास्फोरिकम (Magnesium Phosphoricum) 6x –

a- पेट फुला रहता है।

b- पेट में ऐठन भरा, मरोड़ का दर्द होता है। जिससे आगे की तरफ झुकने से और गर्म से से कमी आती है 

c- जबान साफ रहती हैं।

 

दवाई कैसे लेना है-

मैग्नीशियम फास्फोरिकम की 30 शक्ति आप दिन में तीन बार ले।

 

6- नैट्रम सल्फुरिकम (Natrum Sulphuricum) 6x –

a- हवा की वजह दे पेट फुलम रहता है, जी-मिचलाता है।

b- कड़वी, हरे रंग की उल्टियां होती है।

c- जवान पर हरा या भूरा लेप रहता है।

 

दवाई कैसे लेना है-

नेट्रम सल्फुरिकम की 6x शक्ति आप दिन में तीन बार ले।

 

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published.