Nikat Drishti Dosh : निकट दृष्टि दोष की होम्योपैथिक दवाई (Myopia)

Nikat drishti dosh दोस्तों आंखें हमारे शरीर का अनमोल हिस्सा होती है अगर यह ना हो तो हम अपने जीवन का सही अनुभव ही नहीं कर सकते है। यह हर व्यक्ति के लिए भगवान का दिया अनमोल उपहार है। हर छोटे से बड़े कामो के लिए है आंखे है जरूरी। यह दुनिया को देखने का जरिया है। लेकिन आज कल की लाइफ स्टाइल ओर और बढ़ता प्रदूषण हमारी सेहत के साथ-साथ आंखों के लिए बड़ा ही हानिकारक है। 

Nikat Drishti Dosh : निकट दृष्टि दोष की होम्योपैथिक दवाई (Myopia)

Nikat Drishti Dosh

Nikat Drishti Dosh

आज कल कई घण्टो तक कंप्यूटर पर काम करने से भी आंखों की समस्या तेजी से बढ़ रही है और इन्ही में से एक समस्या है “मायोपिया”। दोस्तो, मायोपिया आंखों की एक आम समस्या है। जिसमे पास की चीजें तो साफ दिखती है पर दूर की चीजें धुंधली दिखाई देने लगती हैं। मायोपिया जैसी बीमारी धीरे-धीरे या तेजी से हो सकती है और यह अक्सर बचपन या किशोरावस्था के दौरान बढ़ जाती है। मायोपिया दूर की चीजो को देखने में प्रभावित करता है और मायोपिया से ग्रसित लोग सिर्फ कुछ दूरी तक ही साफ देख पाते है। nikat drishti dosh

nikat drishti dosh in hindi / myopia in hindi

दूर की चीज ना दिखने के लक्षण – nikat drishti dosh

1- दूर का धुंधला दिखाई देना।

2- आंखे लाल होना।

3- आंखों में दबाव पड़ना।

4- आँखे सुखना।

5- साफ देखने के लिए आखों को मिचना।

6- सिर दर्द होना।

7- आंखों से आंसू आना।

 

gangrene in hindi 

 

दूर की चीज ना दिखने के कारण – nikat drishti dosh

1- अनुवंशिकता के कारण।

2- ज्यादा देर मोबाइल या कंप्यूटर का इस्तेमाल करने के कारण।

3- शरीर मे पोषक तत्वों की कमी के कारण।

4- धूल मिट्टी के संपर्क में आने से।

 

दूर की चीज दिखाइए ना देने की होम्योपैथिक दवाईया (Myopia) – 

 

(1) Phosphorus 200 – nikat drishti dosh

a- आँख की कई बीमारियों में Pho. एक बहुत ही महत्वपूर्ण दवा है। आँख से संबंधित Pho के

लक्षण इस प्रकार है – रोगी को ऐसा लगता है कि जैसे हर चीज पर धूल या कोहरे से ढकी है।

b- आँखों के सामने काले बिन्दु उड़ते दिखाई देते हैं। मोमबत्ती की लौ पर हरे-रंग का घेरा दिखाई देता है।

c- हर चीज लाल दिखाई देती है। पड़ते समय

अक्षर भी लाल दिखाई देते हैं।

 

दवाई कैसे ले –

“फॉस्फोरस” की 200 शक्ति कुछ महीनों तक महीने में एक बार ले।

 

(2) पल्सेटिला (Pulsetilla) 200 – nikat drishti dosh in hindi 

a- दूर की चीजें दिखाई न देने की यह दवा भी एक महत्वपूर्णदवा है। 

b- नजर का धुंधलापन रोगी को लगता है कि उसकी आँखों के सामने कोहरा-सा या जाल-सा है, जिससे वह बार-यार आँखे साफ किया करता है।

c- दूर की चीजें साफ दिखाई नहीं देती। 

 

दवाई कैसे ले- nikat drishti dosh

” पल्सेटिला” की 200 शक्ति हर पंद्रह दिन में एक बार ले।

 

(3) नाइट्रिक एसिड (Nitric Acid) 200 – nikat drishti dosh

a- दूर की चीजें दिखाई न देने में यह दवा उस समय उपयोगी है जय आँखों के सामने काले नव्या, चिनगारियाँ नाचती दिखाई पड़ती हैं। आँखों के आगे जाला या कोहरा-सा दिखाई पड़ता है।

b-‘सिफलिस के कारण या पारे के अप व्यवहार के कारण दूर का दिखाई न देना। 

 

दवाई कब ले-

“नाइट्रिक एसिड” की 200 शक्ति हर 15 दिन में एक बार ले।

 

(4) अग्रिकस मस्क. (Agaricus Musc.) – nikat drishti dosh in hindi

a- ज्यादा बारीक काम करने से नजर की कमजोरी।

b- दूर की चीजें दिखाई न देना। धुंधला दिखाई देता है। आँखों के सामने भूरे रंग के काव्य उड़ते दिखाई देना।

c- आँखों के आगे काली मक्खियां, काले दाग, कोहस

और मकड़ी का जाला दिखाई देता है।

 

दवाई कब लेना है- nikat drishti dosh

“अग्रिकस मस्क” की 12 शक्ति दिन में दो बार ले।

 

नपुंसकता-नामर्दी की होम्योपैथिक दवाए

 

(5) फायोसस्टिगम वेने. (Physostigma Vene) 30 –

a-आँखों की कई तरह की बीमारियों में Phys. दवा बहुत लाभकारी है।

b- आंखों के अन्दर दबाव की अनुभूति रहती है। दूर की चीजें धुंधली नजर आती हैं, आंखों पर जाला-सा छाया रहता है. सब चीजें मिली हुई दिखाई देती हैं।

c- आँखों के आगे काली चित्तियाँ उड़ती दिखाई देती है। आँख का ढेला रह-रहकर थरथराता है।

 

दवाई कब ले-

“फायोसस्टिगम वेने.” की 30 शक्ति दिन में दो बार ले।

 

(6) कोनियम मेकु. (Conium Macu.) 200 – myopia in hindi

a- यह दूर का दिखाई न देने और नजदीक का

दिखाई न देने-दोनों की बढ़िया दवा है। आँख की पेशियों के लकवे के कारण नजर की कमजोरी में यह लाभदायक है। नजर धुंधली पड़ जाती है चीजें साफ दिखाई नहीं देती है तथा लाल दिखती है।

b- आँखों के आगे धागे या बादल तैरते दिखाई देते हैं। 

 

दवाई कब ले-

“कोनियम मेकु” की 200 शक्ति हर पंद्रह दिन में एक बार ले।

 

(7) फॉस्फोरिक एसिड (Phosphoric Acid) 30 – myopia in hindi

a- बहुत ज्यादा हस्तमैथुन करनेवालों की नजर की कमजोरी में यह दवा (Pho-ac.) विशेष रूप से लाभदायक है।

b- निकटदृष्टिता (दूर की चीजें दिखाई न देना) आंखों के सामने इंद्रधनुष जैसे रंग दिखाई देते हैं।

 

दवाई कब ले –

“फॉस्फोरिक एसिड” की 30 शक्ति दिन में दो बार ले।

Note : nikat drishti dosh

दोस्तों आज हमने आपको nikat drishti dosh के बारे में बताएं nikat drishti dosh in hindi और homeopathy in hindi  के बारे में जानकारी दी अगर यह जानकारी आपको अच्छी लगी तो कृपया कमेंट सेक्शन पर अपना समर्थन दें और अगर आपको इसमें कुछ सुधार समझ आता है तो वह भी हमें कमेंट सेक्शन में जरूर बताएं हमारे अन्य ब्लॉक जिसमें Beautytips In Hindi के बारे में जानकारी दी है उसकी link लिंक यह है !

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published.