Homeopathy Medicine For Fatty Liver फैटी लिवर होम्योपैथीक दवाइयों

Homeopathy Medicine For Fatty Liver नीचे दी गयी होम्योपैथीक दवाइयों के लक्षणों के आधार पर आप नीचे दी गयी होम्योपैथिक दवाइयों का सेवन कर सकते हैं।

फैटी लिवर होम्योपैथीक दवाइयों  Homeopathy medicine for fatty liver  – Fatty liver in Hindi

Homeopathy Medicine For Fatty Liver

फैटी लिवर होम्योपैथीक दवाइयों

Homeopathy medicine in hindi :- 

(1) China Officinalis 30 (दिन में दो बार ले) –

जिगर और मिलती (Liver and Spleen) है और बढ़ जाते है। जिगर की जगह पर सूई चुभने जैसा दर्द है। पूरे पेट में हवा भरी रहती है।

Also See :- Berberis Vulgaris In Hindi बर्बेरिस वल्गैरिस (BERBERIS VULGARIS) इन हिंदी

(2) Lycopodium Clav. 30 (दिन में दो बार ले) – 

जिगर बढ़ जाता है। जिगर की जगह पर धीमा-धीमा दर्द हुआ है। जिगर की जगह पर छुआ नहीं जा सकता या दबाने से दर्द होता है। खाने के बाद जिगर में दर्द होता है। 

 

(3) Bryonia Alba 30 (दिन में दो बार ले) –

जिगर में सूजन पैदा हो जाती है और हर जाता है। जिगर में सूई चुभने जैसा दर्द होता है। सांस लेते समय, छींकते या खाँसते समय दर्द होता है।

 

(4) Chionanthus Virg. Q. (5 बूंदे दिन में 3 बार ले) –

जिगर के बढ़ने पर यह दवा भी लानदायक है। जिगर खूब बड़ा हो जाता है। वहाँ पर दर्द होता है। कब्ज रहती है। पेशाब गाढ़ा और लाल-रंग का होता है। 

 

(5) Nux Vomica 30 (दिन में दो बार दें) –

जिगर बढ़ जाता है। जिगर के स्थान पर दर्द होता है। दाने और हिलन-डुलने से दर्द दवा है। सुबह के समय जी-मतलाता है।

 

(6) Natrum Sulph. 30 (दिन में दो बार दें) –

जिगर बढ़ जाता है। जिगर की जगह को छूने से दर्द होता है। जिगर की जगह पर तेज चुभने जैसा दर्द होता। अचानक धक्का लगने, चलने-फिरने, गहरी लेने से जिगर की जगह पर भाला घुसा दर्द होता है। पेट-कमर पर कसे हुए कपड़े सहन नहीं होते। मुँह का स्वाद खट्टा और कड़वा होता है। बाई करवट लेटने पर दर्द बढ़ता है। पेट में हवा भरी रहती है।

 

(7) Carduus Marianus Q (5बूंदै दिन में 3 बार ले)- 

जादू-सा असर करती है अगर आगे लिखे लक्षण मौजूद हैं. जिगर का बढ़ जाना और कड़ा पड़ जाना। हरे-रंग के पित्त की, कभी-कभी खून की उल्टियाँ होना। मुँह का स्वाद कड़वा रहना। दाहिने कंधे के नीचे दर्द होना।

 

(8) Chelidonium Manus 30 (दिन में दो बार ले) –

जिगर की जगह पर चुभने जैसा दर्द होता है। मुँह का स्वाद कड़वा रहता है। पित्त की उल्टियां होती है। दाहिने कंधे की हड्डी (Scapula) में लगातार दर्द हुआ करता है।

(9) Magnesia Mur. 30 (दिन में दो बार दें) –

जिगर बड़ा और कड़ा हो जाता है। चलने-फिरने, छूने से दर्द होता है। दाई करवट लेटने से दर्द बढ़ता है। कब्ज रहती है। पाखाना गोल गोटियों जैसा, भेड़ की मेंगनी जैसा होता है।

 

Note : Homeopathy Medicine For Fatty Liver

दोस्तों आज हमने आपको Homeopathy Medicine For Fatty Liver के बारे में बताएं Homeopathy medicine for liver in hindi के बारे में जानकारी दी अगर यह जानकारी आपको अच्छी लगी तो कृपया कमेंट सेक्शन पर अपना समर्थन दें और अगर आपको इसमें कुछ सुधार समझ आता है तो वह भी हमें कमेंट सेक्शन में जरूर बताएं हमारे अन्य ब्लॉक जिसमें Skin Care In Hindi के बारे में जानकारी दी है उसकी link लिंक यह है !

Leave a Reply

Your email address will not be published.