होम्योपैथिक दवा का परहेज – होम्योपैथिक दवा खाने से पहले जान ले यह 10 सावधानियां

होम्योपैथिक दवा का परहेज

Homeopathic Dawa Ka Parhej

होम्योपैथिक दवा का परहेज – Homeopathic Dawa Ka Parhej – Effects Of Homeopathic Medicine

होम्योपैथिक दवा खाने से पहले , ले यह 10 सावधानियां – Homeopathic Dawa Khane Se Pehele Le Yeh 10 Sawdhaniya

अगर आप होम्योपैथिक दवाएं लेते हैं तो आपको यह सब सावधानियां जान लेनी चाहिए. यह तो हम सभी जानते हैं कि होम्योपैथिक दवाइयां किसी भी बीमारी को जड़ से खत्म करने की क्षमता रखती है, पर अगर हम सही तरीके से इनका सेवन ना करें तो हमारे लिए लाभदायक नहीं रहेंगी, तो चलिए जानते हैं होम्योपैथिक दवा का परहेज और 10 विशेष सावधानियां ।

 

1- (होम्योपैथिक दवा का परहेज )होम्योपैथिक दवाइयों को खुले में ना रखें-

(होम्योपैथिक दवा का परहेज) – होम्योपैथिक दवाइयों को कभी खुले में नहीं रखना चाहिए. होम्योपैथिक दवाइयों को हमेशा ठंडी जगह पर रखना चाहिए और दवाइयां खाने के बाद दवाई के ढक्कन को अच्छे से बंद कर देना चाहिए।

 

2- दवाइयों को हथेली पर ना रखें-

होम्योपैथीक दवाइयों को कभी खाने के लिए हथेलियों पर नहीं रखना चाहिए, क्योंकि उसमे मौजूदा स्पिरिट खत्म हो जाता है, और दवाईयों का असर कम हो सकता है इसलिए कभी भी जब आप दवाइयों का सेवन करें तो उसी के ढक्कन से डायरेक्ट अपने मुंह में रखे।

 

3- होम्योपैथिक दवाइयां लेने पर कुछ ना खाएं-

होम्योपैथिक दवाइयां लेने के दौरान दवाइयां खाने के 10 मिनट पहले एवं 10 मिनट बाद किसी चीज का सेवन ना करें।

 

4- नशा ना करें-

होम्योपैथिक दवाइयां लेने के दौरान किसी भी प्रकार का नशा ना करें क्योंकि नशे में स्ट्रांग सप्लीमेंट होते हैं जो होम्योपैथिक दवाइयों के प्रभाव को कम कर सकते हैं।

 

5- होम्योपैथिक दवाइयों को धूप में ना रखें-

होम्योपैथिक दवाइयां लेने के दौरान कभी भी दवाइयों को धूप में नहीं रखना चाहिए क्योंकि इससे दवाइयों का असर कम हो सकता है।

 

6- होम्योपैथिक दवाइयों को किसी अन्य दवाइयों के साथ ना रखें-

होम्योपैथिक दवाइयों को कभी भी किसी अन्य जैसे एलोपैथिक एवम् आयुर्वेदिक जैसी दवाइयों के साथ नहीं रखना चाहिए, इससे दवा की पावर कम हो जाती है।

 

7- खट्टी चीजों से परहेज करें-

होम्योपैथिक दवाइयां के सेवन करने के दौरान कभी भी खट्टी चीजों का सेवन नहीं करना चाहिए, इससे भी दवाइयों का असर कम हो जाता है।

 

8- होम्योपैथिक दवाइयां किसी और की ना खाएं-

कभी भी सामान्य बीमारी पर किसी अन्य की दवाइयों का सेवन ना करे क्योंकि होम्योपैथिक दवाइयों का परीक्षण उसके स्वयं के अनुसार किया जाता है इसलिए कभी भी किसी अन्य रोगी की होम्योपैथिक दवाइयों का सेवन ना करें।

 

9- चाय या कॉफी से परहेज करें-

होम्योपैथिक दवाइयां लेने के दौरान कभी भी चाय या कॉफी का सेवन नहीं करना चाहिए, क्योंकि चाय या कॉफी से भी होम्योपैथिक दवाइयां का निर्माण किया जाता है आपकी बीमारी के लिए होम्योपैथिक डॉक्टर की गई होम्योपैथिक दवाइयों का असर कम हो सकता है इसलिए कभी भी होम्योपैथिक दवाइयां लेने के दौरान चाय या कॉफी का सेवन ना करे।

 

10- होम्योपैथिक दवाइयां लेने के पहले मुंह साफ करे –

होम्योपैथिक दवाइयां लेने से पहले अच्छे से कुर्ला कर कर अपना मुंह साफ कर ले, एवं हमेशा अपनी जिव के नीचे रखकर होम्योपैथिक दवा दवाइयों को चूसे. कभी भी होम्योपैथिक दवाइयों को डायरेक्ट नहीं लेना चाहिए हमेशा अपने मुंह को अच्छे से साफ कर कर दवाइयों को जिव के नीचे रखकर चूस चूस कर खाना चाहिए कभी भी दवाइयों को जब आना नहीं चाहिए क्योंकि ऐसा करने से इसका प्रभाव कम हो सकता है।

Updated: May 29, 2020 — 11:10 pm

Leave a Reply

Your email address will not be published.