ghav bharne ki medicine name – घाव सूखने की दवा

ghav bharne ki medicine name दोस्तो, आये दिन हमे चोट लगती रहती है। चोट लगने पर अगर घाव नही सुख रहा हो तो नीचे दी गयी होम्योपैथिक दवा बहुत कारगार है। ghav bharne ki medicine name – ghav sukhane ka medicine / ghav

 

ghav bharne ki medicine name – घाव सूखने की दवा

ghav bharne ki medicine name

घाव सूखने की होम्योपैथिक दवा – ghav bharne ki medicine name

दोस्तों, नीचे दी गई होम्योपैथिक दवाओं के लक्षणों के आधार पर आप होम्योपैथिक दवाइयों का चयन कर सकते हैं।

 

Nikat Drishti Dosh : निकट दृष्टि दोष की होम्योपैथिक दवाई (Myopia)

 

(1) अर्निका मोन्टाना (Arnica Montana) Q,200,1M – ghav sukhane ka medicine 

a- सभी तरह की चोटों के लिए सबसे महत्वपूर्ण दवा है।

b- शरीर में कहीं भी चोट लगने पर सबसे पहले इसी दवा की तरफ ध्यान जाता है।

c- चोट लगने के दुष्परिणामों को (चोट चाहे कई महीने या कई साल पहले लगी हो) दूर करने के लिए अर्निका मोन्टाना ही सबसे प्रमुख दवा है।

 

दवाई कब ले –

a- अभी-अभी लगी चोट में चोट लगी जगह की त्वचा अगर कहीं से भी कटी-फटी न हो तो इसके मूल अर्क (Mother Tincture) की 20-30 बूंदे पाव कप पानी में डालकर कपड़े की पट्टी उसमें मिलाकर चोट लगी जगह पर रखें और हर दस मिनट से तैयार किए गए घोल (solution) से उसे मिलते रहें और  200 शक्ति की एक खुराक हर एक-दो घंटे पर देते रहें।

 

(2) हाईपेरिकम पेरफ (Hypericum Perf.) 30,200- ghav bharne ki medicine name

a- Arnica की तरह ही Hypr. चोट लगने पर लाभदायक है, लेकिन इसे नसों (Nerves) पर चोट लगने पर दिया जाता है।

b- नसों पर चोट लगने पर वह दर्द जो ऊपर की तरफ जाता है। हाथ-पैर की उंगलियां, नाखून, हथेली, तलाश

वगैरह पर चोट लगने पर इसे दिया जाता है।

क्योंकि यह शरीर के ऐसे अंग हैं जहाँ पर नसे

ज्यादा होती हैं।

c- उंगली दरवाजे में कुचल जाने, उंगली पर हाथी लग जाने, कोई वजनदार चीज उंगली पर। जाने पर Hypr. बहुत ही बदिया दवा है।

d- रीढ़ की आखरी हड्डी पर चोट लगने पर भी यह दवा लाभदायक है। दर्द सिर्फ चोट लगी जगह पर ही नहीं होता, बल्कि पूरे शरीर में होता है।

 

दवाई कब ले-

a- “अर्निका मोन्टाना” की चोट लगी जगह पर Hypr. के मूल अर्क (Mother Tincture) की 20-25 बूँदें पाव कप पानी में डालकर घोल (solution) तैयार करें और कपड़े की पट्टी भिगोकर रखें और हर आधे घंटे से 30 या 200 शक्ति की दवा देते रहें।

 

(3) रूटा ग्रेव (Ruta Grave.) 30, 200 – ghav sukhane ka medicine 

a- चोट लगने पर Rut. भी बहुत ही लाभदायक है।

b- हड्डी पर, विशेषकर जहाँ पर हड्डी के ऊपर मांस कम होता है, चोट लगने पर इसके अलावा किसी अन्य दवा से लाभ नहीं होगा।

c- हड्डी पर चोट लगने पर रन.देकर समय बर्बाद न करें Rut. देनी चाहिए।

d- हड्डी पर चोट लगने पर वहाँ गुमटा (गाँठ) पड़ जाता है। वह भी इससे ठीक हो जाता है। कई साल पुराने हड्डी के गुमटों के लिए भी यह लाभदायक है। घुटने के नीचे की हड्डी, टखने की हड्डी, कलाई, चेहरे की (आँख के पास की) हड्डी पर चोट लगने पर इसे ही दिया जाना चाहिए, क्योंकि यहाँ मांस कम होता है।

e- फुटबॉल, हॉकी, क्रिकेट के खिलाड़ियों को अकसर हड्डी पर चोट लगा करती है। उन्हें अपने पास इस दवा को जरूर रखना चाहिए।

 

दवाई कब ले- 

“रूटा ग्रेव” ताजी चोट में हर आधे घंटे से इसे देना चाहिए। पुरानी चोट में दिन में दो बार ले। 

 

4- सिम्प. ओफ्फिसिनालिस (symp। officinallis) 30, 200 – ghav bharne ki medicine name

a- रूटा की तरह Symp. भी हड्डी पर लगी चोट की

एक बढ़िया दवा है।

b- Symp. दवा Rut. से ज्यादा गहराई में जाकर असर करनेवाली दवा है।

c- रूटा से दर्द में लाभ न होने पर इसे दिया जाता है। हड्डी पर लगी कई साल पुरानी चोट में भी यह उपयोगी है।

 

दवाई कब ले- ghav

“सिम्प. ओफ्फिसिनालिस” हड्डी की पुरानी चोट में दिन में दो बार ले। 

 

(5) बॉयोनिया एल्बा (Bryonia Alba) 30, 200 – ghav

a- हड्डी पर चोट लगने पर बॉयोनिया भी लाभदायक है।

b- हड्डी में दर्द होता है और सूजन होती है दर्द जमीन हिलने-डुलने से बढ़ता है। 

 

दवाई कब ले- ghav bharne ki medicine name

“बॉयोनिया एल्बा” की 30 या 200 शक्ति दिन में तीन बार ले।

 

पथरी की होम्योपैथिक दवा – stone meaning in hindi – pathari

 

(6) मिलीफोलियम (Millifolium) 30 – ghav bharne ki medicine name

a- चोट लगने से अगर चमड़ी कटी-फटी न हो. तो मांसपेशियों (muscles) की गहराई में हो तो यह दवा लाभदायक है।

b- कई दिनों तक दर्द बना रहे और Arn. से ठीक न हो रहा हो तो मिलीफोलियम से लाभ होता है। 

 

दवाई कब ले-

30 शक्ति दिन में तीन बार दें। ऊँची शक्ति दिन में दो बार दें।

Note : ghav bharne ki medicine name

दोस्तों आज हमने आपको ghav bharne ki medicine name के बारे में बताएं ghav sukhane ka medicine और ghav  के बारे में जानकारी दी अगर यह जानकारी आपको अच्छी लगी तो कृपया कमेंट सेक्शन पर अपना समर्थन दें और अगर आपको इसमें कुछ सुधार समझ आता है तो वह भी हमें कमेंट सेक्शन में जरूर बताएं हमारे अन्य ब्लॉक जिसमें Beautytips In Hindi के बारे में जानकारी दी है उसकी link लिंक यह है !

Updated: July 30, 2020 — 6:47 pm

Leave a Reply

Your email address will not be published.