Berberis Vulgaris In Hindi बर्बेरिस वल्गैरिस (BERBERIS VULGARIS) इन हिंदी

Berberis Vulgaris In Hindi यूरोप में उगने वाले एक पेड़ की जड़ से यह दवा बनाई जाती है। गुर्दां (Kidneys) और मुत्राशय (Bladder) और यकृत (Liver) पर इसकी प्रधान क्रिया होती है। कमर दर्द, पथरी पेशाब सुखी बीमारी भोग रहे रोगियों के वात और गठियावात, गुर्दों का दर्द, गुर्दों की सूजन, अण्डकोष का दर्द  वगैरह में यह लाभदायक है। यह left side ज्यादा अच्छा काम करती है।

Berberis Vulgaris In Hindi – Berberis Vulgaris Uses And Side Effects In Hindi

Berberis Vulgaris In Hindi

बर्बेरिस वल्गैरिस (BERBERIS VULGARIS) इन हिंदी

Homeopathy medicine in hindi

Common name – Barberry.

इस दवा का प्रमुख लक्षण यह है कि दर्द किसी एक जगह से उठकर चारों तरफ फैल आाता है। पथरी का दर्द हो, जोड़ों का दर्द हो चाहे और किसी तरह का दर्द हो वह एक जगह से उठकर चारों तरफ फैल जाता है।

Also : Baryta carb 200 uses in hindi बैराइटा कार्बोनिक

सिरदर्द (Headache) – 

 

पर नहीं सिरदर्द के दौरान रोगी को ऐसा महसूस होता है जैसे उसका सिर फूल रहा है, बड़ा हो हा है। रोगी को ऐसा लगता है जैसे पूरी खोपड़ी पर तंग टोपी बंधी हुई है। माथे और कनपटियों में फाड़ने जैसा दर्द होता है। सिरदर्द हिलने डुलने से बढ़ता है और खुली हवा में जाने पर कम हो जाता है।

 

कमर दर्द (Lumbago)

 

कमर जकड़ी हुई लगती है। कटि प्रदेश (Lumbar region) में दर्द जो पेट, जाँघों और ीचे पैरों तक जाता है। कमर में ऐसा दर्द जैसे कमर को खूब पीटा गया हो। जब रोगी बैठा या मेटा होता है उस समय भी दर्द रहता है लेकिन कुर्सी वगैरह से उठते वक्त दर्द सबसे ज्यादा ता है। 

 

गुर्दे का/मूत्र पथरी का दर्द (Renal/Stone Pain)

गुर्दे में छोटी-छोटी पथरियाँ बन जाती हैं। इनमें से कोई पथरी गुर्दे से निकलकर मूत्राशय की तरफ जाने लगी है। उस वक्त रोगी को बहत तकलीफ देने वाला दर्द होता है। यह दर्द विशेषकर बाएँ गुर्दे से शुरू होता है और बाद में चारों तरफ फैल जाता है। पेशाब में जलन होती है पेशाब थोड़ा-थोड़ा और जलन के साथ होता है। कमर के निचले हिस्से में भी जोरदार दर्द हिता है। इस दवा को 30 शक्ति में हर 15-15 मिनट से तीन-चार बार देने से पथरी निकल जाती है और दर्द रुक जाता है।

 

वात रोग (Rheumatism)

 

इस दवा का दर्द काटने जैसा और जगह बदलने वाला हाता है। दर्द कभी कमर में, कभी घुटने में, कभी टखने में, कभी पैर की उँगलियों के जोड़ों में, कभी कोहनियों में इस तरह वह जगह बदलता रहता है। यह दर्द पेशाब में यूरिक एसिड ज्यादा हो जाने के कारण होता है। रोगी को कभी पेशाब ज्यादा आता है तो कभी कम। पेशाब गर्म, गंदला, सफेद बादलों जैसा खून मिला रहता है। पेशाब में लाल या सफेद तलछट रहती है।

 

Note : Berberis Vulgaris In Hindi

दोस्तों आज हमने आपको Berberis Vulgaris In Hindi के बारे में बताएं Homeopathy medicine berberis vulgaris के बारे में जानकारी दी अगर यह जानकारी आपको अच्छी लगी तो कृपया कमेंट सेक्शन पर अपना समर्थन दें और अगर आपको इसमें कुछ सुधार समझ आता है तो वह भी हमें कमेंट सेक्शन में जरूर बताएं हमारे अन्य ब्लॉक जिसमें Skin Care In Hindi के बारे में जानकारी दी है उसकी link लिंक यह है !

Leave a Reply

Your email address will not be published.